एक देश एक राशन कार्ड योजना: One Nation One Ration Card, ऑनलाइन आवेदन

One Nation One Ration Card Online | एक राष्ट्र एक राशन कार्ड स्कीम | एक देश एक राशन कार्ड के लाभ | One Nation Ration Card Scheme Apply

एक देश एक राशन कार्ड योजना इस नई लाभकारी एवं हितकारी नयी के अंतर्गत किसी देश के सभी क्षेत्र के नागरिको के लिए राशन कार्ड के माध्यम से देश के किसी भी राज्य से पीडीएस के राशन की दुकान से राशन प्राप्त कर सकेंगे| इस बात की घोषणा देश के केंद्रीय खाद्य मंत्री और सार्वजनिक वितरण मंत्री श्री रामविलास पासवान जी के द्वारा की गयी है| देश की इस लाभकारी एवं हितकारी योजना के तहत देश के लोग किसी भी राज्य की किसी भी पीडीएस की दुकान से अपने-अपने हिस्से का राशन लेने में पूर्ण रूप से स्वतंत्र रहेंगे| One Nation One Ration Card 2020 इस हितकारी योजना के देश के हर एक नागरिक को लाभकारी राहत पहुंचाएगी | देश की इस लाभकारी योजना के शुरू होने से सभी नागरिको को काफी सारा फायदा होगा |

One Nation One Ration Card

वन नेशन वन राशन कार्ड– One Nation One Ration

देश की वर्तमान वित्तीय श्रीमती मंत्री निर्मला सीतारमण जी ने हाल की में गुरुवार को इस योजना के तहत एक नई हिताकारी और लाभकारी घोषणा की है | वतर्मान त्रासदी के चलते लॉक डाउन की वजह से हमारे पूरे देश के जो गरीब लोग परेशान है उन्हें इस नई लाभकारी और हितकारी घोषणा के ज़रिये जन जन तक राहत पहुंचाई जाएगी |

इस लाभकारी और हितकारी वन नेशन वन राशन कार्ड योजना के अंतर्गत देश के लगभग हर हिस्से के 23 राज्यों को देश के लगभग 67 करोड़ लोगों को फायदा मिलेगा। इस हितकारी पीडीएस योजना के लगभग 83 फीसदी लाभाार्थीयो को इस योजना से जोडा जायेगा।  हाल की मे लागू हूई इस लाभकारी और हितकारी   योजना के तहत मार्च 2021 तक इसमें लगभग सभी 100 फीसदी लाभार्थी जुड़ जाएंगे। इस योजना के तहत देश के नागरिक देश के किसी भी कोने मे होते हुए भी अपने पास उपलब्ध राशन कार्ड के माध्यम से कही पर भी उचित मूल्य पर राशन की दुकान से राशन ले सकते हैं।

One Nation One Ration Card Scheme

देश मे हाल ही मे लागू हुई इस लाभाकारी एवं हितकारी इस योजना को देश मे पायलट प्रोजेक्ट के तोर पर फ़िलहाल सामायन्तः दो क्लस्टर राज्यों आंध्र प्रदेश -तेलंगाना और महाराष्ट्र -गुजरात में फिलहाल आंशिक रूप सें शुरू की गयी है इसके बाद अब हाल मे इसमे परिवर्तन हुआ है जिसमे आंध्र प्रदेश के लोग तेलंगाना राज्यो में और तेलंगाना के लोग आंध्र प्रदेश में किसी भी राशन की  दुकान से इस योजना की सहायता से राशन ले सकते है इसी तरह महाराष्ट्र के लोग गुजरात में अब नये संसोधन के माध्यम से और गुजरात के लोग महाराष्ट्र में जाकर अब नये संसोधन के माध्यम से वहाँ की राशन की दुकान से राशन ले सकते है| आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से इस योजना के इसी लाभ के बारे मे One Nation One Ration Card Scheme 2020 से जुडी सभी जानकारी प्रदान करने जा रहे है अतः हमारे इस आर्टिकल को खुली आंखो से ध्यानपूर्वक पढ़े |

वन नेशन वन राशन कार्ड टोल फ्री नंबर

अगर आप इस योजना के बारे मे पहली बार सुन रहे है और देश के अगर किसी व्यक्ति को इस लाभकारी और हितकारी वन नेशन वन – राशन योजना के अंतर्गत कोई परेशानी और किसी भी प्रकार की इस योजना के बारे मे जानना चाहते है या असुविधा है वह इस सम्बन्ध में आप कोई जानकारी या किसी भी प्रकार की कोई शिकायत करना चाहते है तो वह उनके लिए केंद्र सरकार ने इस योजना के तहत लाभार्थीयो की मदद के लिए टोल फ्री नंबर 14445 जारी किया है।

इस जारी टोल फ्री नंबर पर ‘वन नेशन वन राशन कार्ड‘ इस लाभकारी सुविधा का उपयोग करने वाले देश के राशन कार्ड लाभार्थी इस नम्बर पर संपर्क कर अपनी किसी भी प्रकार की शिकायत व किसी भी प्रकार की समस्या दर्ज करा सकते हैं। और हर समस्या का समाधान प्राप्त कर सकते है।इस हितकारी योजना के अंतर्गत 31 मार्च 2021 तक पूरे देश में लगभग 81 करोड़ लाभार्थियों को इसका लाभ प्राप्त होगा।

एक राष्ट्र एक राशन कार्ड स्कीम 2020

वर्तमान भारत सरकार मे केंद्रीय खाद्य मंत्री का कहना है की इस हितकारी योजना को 1 जून 2020 तक देश के लगभग हर भाग मे लागू कर दिया जायेगा और देश के वर्तमान के केंद्रीय खाद्य मंत्री ने कहा है कि आज के मौजूदा समय में इस राशन कार्ड के लिए देश के लगभग सभी 14 राज्यों में पीओएस मशीन कि सुविधा शुरू हो चुकी है जल्द ही और अन्य राज्य में इस सुविधा को सुचारू रूप से शुरू किया जायेगा |

अगर कोई देश का  कोई भी व्यक्ति अपने किसी भी  राज्य से किसी अपने दूसरे राज्य में रहने जाता है तो उस स्थिति मे वह उस राज्य की किसी भी पीडीएस (PDS) राशन की दुकान से अपने हिस्से का राशन इस के तहत आसानी से योजना के लाभाकारी योजनाओ के साथ ले सकता है |

इस एक राष्ट्र एक राशन कार्ड स्कीम इस योजना के तहत को पूरे देश मे लागू करने के लिए केंद्र सरकार को देश के सभी पी-डी-एस (P.D.S) दुकानों पर पीओएस (POS) की सुविध उपलब्ध करानी होगी | वर्तमान केन्द्र सरकार के खाद्य मंत्री रामविलास पासवान जी ने जून 2019 को  सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशो को इस One Nation One Ration Card Scheme हितकारी योजना को शुरू करने का 1 (एक) साल तक का समय दिया था | पिछले पूराने नियमा मे जून 2019 को  सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशो को इस One Nation One Ration Card Scheme को पूरे देश मे शुरू करने का 1 (एक) साल तक का समय दिया था

एक देश एक राशन कार्ड नई अपडेट

जैसे की आप सभी देशवासी जानते है की यह साल कोरोना वायरस की वजह से इस समय में पूरे देश में लॉक डाउन की स्थिति बनी हुई है |जिसका असर हर रोज कमाके खाने वाले लोगो पड़ रहा है | इस समस्या को देश कम करने के लिए सरकार ने हाल ही मे 1 जून से एक देश एक राशन कार्ड योजना में अन्य और तीन राज्यो जिसमे ओडिशा , सिक्किम और मिजोरम पूर्वी राज्य इससे जुड़ गए हैं। इसके साथ ही उन सभी राज्यों की संख्या 19 अब और अधिक हो गयी है जहा पर एक Ek Desh Ek ration card yojna को लागू कर दिया गया है|

यह योजना देश मे लॉक डाउन के समय देश के लगभग सभी लोगो के लिए काफी लाभकारी साबित होगी | इस हितकारी Ek Desh Ek ration स्कीम का फायदा देश के उन सभी राशन कार्ड धारकों को होगा जो दूसरे राज्यों में अपने लिए नौकरी करते हैं। देश मे हाल मे राशनकार्ड धारक देश के किसी भी हिस्से मे जाकर वहा (सरकारी किमत) की सरकारी राशन दुकान से कम कीमत पर अनाज खरीद सकेंगे। 1 जून तक 20 राज्य महाहितकारी योजना से जुड़ जाएंगे और मार्च 2021 तक यह यह लाभकारी योजना लगभग देश के लगभग सभी हिस्सो मे लागू हो जायेगी।

नई अपडेट एक देश एक राशन कार्ड

देश की इस नयी योजना की घोषणा पिछले साल 2019 जून में की गई थी। इस साल 1 जनवरी 2020 को 12 और नये राज्यो को एक-दूसरे के बीच एकीकृत हो गए और अब 17 राज्य सार्वजनिक वितरण प्रणाली (पीडीएस) के एकीकृत Management पर हैं देश के बाकी हिस्सों को इस योजना का लाभ के लिए इस साल जून तक इस योजना में शामिल किया जायेगा|

इससे पूरानी योजना  खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत कवर किए गए लगभग 810 मिलियन में से लगभग 600 मिलियन लाभार्थियों को लाभ होगा । इस One Nation One Ration Card Scheme हितकारी योजना के जरिए यह इन राज्यों के प्रवासी कामगारों के लिए एक बड़ी मदद होगी, जो किसी से भी कही से भी सब्सिडी वाले खाद्यान्न और अन्य लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

एक राशन कार्ड स्कीम

देश के 2 राज्य बिहार और उत्तर प्रदेश सहित अब और नये पांच और राज्यों को ‘एक राष्ट्र, एक राशन कार्ड’ हितकारी योजना के साथ एकीकृत किया गया है। भारत के हाल खाद्य मंत्री रामविलास पासवान का कहना है कि आज 5 अब और राज्यों – बिहार, यूपी, पंजाब, हिमाचल प्रदेश और दमन और दीव को वन नेशन-वन राशन कार्ड नये सिस्टम के साथ नया एकीकृत हाल की मे किया गया है। 

एक राष्ट्र, एक राशन कार्ड’ इस हितकारी पहल के तहत, हमारे देश के समस्त पात्र लाभार्थियों को देश में कही पर किसी भी उचित मूल्य की दुकान पर जाकर राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम (एनएफएसए) के तहत अपने हिस्से का पात्र अनाज ले सकते है।

एक देश एक राशन कार्ड योजना 2020 का उद्देश्य

  • हाल ही मे लागू हूई एक देश एक राशन कार्ड योजना का उद्देश्य है कि हमारे देश में हो रहे फ़र्ज़ी राशन कार्ड को रोकने में मदद मिलेगी और देश में चल रहे खाद्यान मे भष्टाचार को रोका जा सकेगा |
  • हाल ही मे लागू हूई इस नई योजना के लागू होने के बाद यदि देश मे कोई भी व्यक्ति एक स्थान से दूसरे स्थान पर जाता है तो उसे राशन लेने में कोई भी परेशानी नहीं होगी |
  • हितकारी और लाभकारी इस एक राष्ट्र एक राशन कार्ड स्कीम का फायदा हमारे देश के प्रवासी मजदूरों को अधिक से अधिक होगा | देश के हर कोने मे इन लोगो को पूरी खाद्य सुरक्षा मिलेगी |
  • देश की केंद्र सरकार इस नई योजना को अब समय रहते ही अब पुरे इसे देश के अलग अलग राज्यों में इस योजना को आरम्भ करने की पहल कर रही है। जिससे अधिक से अधिक देशवासी लोग इस योजना का लाभ उठा सके|

One Nation One Ration Card Scheme के मुख्य तथ्य

योजना का नामएक देश एक राशन कार्ड योजना
इनके द्वारा पेश किया गयाश्री राम विलास पासवान
उद्देश्ययह सुनिश्चित करने के लिए कि कोई भी व्यक्ति सब्सिडी वाले खाद्यान्न प्राप्त करने से वंचित न रहे  
योजना की समय सीमा30 जून 2030
लाभार्थीअखिल भारतीय राशन कार्ड धारक
नोडल एजेंसीभारतीय खाद्य निगम

सबसे पहले इन राज्यों  में लागू की जाएगी योजना

इस लाभकारी योजना के बारे मे आपको बता दे कि हाल ही मे लागू हूई राशन कार्ड योजना देश के फिलहाल 11 राज्यों में लाभायर्थियो के आधार से लिंक किया जा चुका है इन राज्यों में राशन का मुख्यतः आवंटन Point of Sale के ज़रिये किया जा रहा है|

यह लाभकारी और हितकारी योजना 1 जनवरी 2020 को हमारे देश के राज्य (आध्र प्रदेश ,तेलंगाना गुजरात, महाराष्ट्र ,हरियाणा ,झारखण्ड ,पंजाब ,कर्नाटक ,केरल त्रिपुरा ,राजस्थान) इत्यादी इन सभी महत्वपूर्ण 11 राज्यों मे लागू की जाएगी| देश मे लागू इस खाद्य और सार्वजनिक वितरण विभाग के लक्ष्यो पर इस लाभकारी योजना को बढ़ावा देते हुए बड़े स्तर पर काम कर रही है|

एक देश एक राशन कार्ड योजना 2020 के लाभ

  • आगामी 2020 से देश का हर एक नागरिक इस योजना का लाभ उठा सकेगा।
  • अगर आप काम की तलाश में एक राज्य से दूसरे में रोजगार हेतु आते हैं तो आपके लिए यह लाभकारी है।
  • इस सरकारी योजना की सबसे बड़ी बात यह हैं कि आप इस एक देश एक राशन कार्ड योजना के माध्यम से अपने हिस्से का राशन देश के किसी भी कोने में उठा सकते हैं।
  • अब अगर देखा जाए तो यह योजना देश के कई और कई राज्यों में पीडीएस प्रणाली के संबंधित एकीकृत प्रबंधन की शुरुआत ओर भी बडी  तेज़ी से चल रही है जिसके अंतर्गत देश के कई और राज्य भी आते हैं जिसमे आंध्र प्रदेश ,गुजरात ,कर्नाटक ,राजस्थान हरियाणा ,झारखण्ड ,केरल ,त्रिपुरा तेलंगाना, महाराष्ट्र आदि भारत के राज्य शामिल है ।

वन नेशन वन राशन कार्ड फॉरमैट

केंद्र सरकार द्वारा जारी राष्ट्रीय पोटेबिलिटी प्राप्त करने के लिए देश के विभिन्न राज्यों तथा देश के अन्य केंद्र शासित प्रदेशों को भारत सरकार द्वारा राशन कार्ड जारी करने के लिए एक अच्छा फॉर्मेट दिया गया है। जिसमे सभी राज्य को वन नेशन-वन राशन कार्ड योजना के अंतर्गत इसी मुख्य फॉर्मेट को फॉलो करके राशन कार्ड जारी करना होगा क्योंकि यही मुख्य फॉरमेट होगा । वन नेशन-वन राशन कार्ड फॉर्मेट देश मे लागू करने की विशेषताएं कुछ इस प्रकार है।

  • देश मे लागू नए राशन कार्ड में कुछ आवश्यक न्यूनतम विवरण शामिल करना होगा लेकिन राज्य सरकार इस फॉरमेट अपनी आवश्यकता के अनुसार अधिक विवरण भी जोड़ कर संसोधित सकती है।
  • इस योजना में राशन कार्ड दो भाषाओ हिंदी और इंग्लिश में जारी किया जा सकेगा। ओर इसके अलावा राज्य या क्षेत्र की स्थानीय भाषा में भी आपका राशन कार्ड जारी किया जा सकता है।
  • इस योजना के जरिये Ek desh Ek Ration ऑनलाइन फॉर्म में जारी राशन कार्ड को जारी करते समय इसमें एक यूनिक 10 अंकों का राशन कार्ड नंबर शामिल भी होगा। ओर इन सभी राशनकार्ड के 10 अंकों के राशन कार्ड नंबर में सबसे पहले 2 अंक उस राज्य जिस राज्य का निवासी हैं के कोड होंगे और अगले 2 अंक उस राशन कार्ड नंबर होंगे।
  • नए राशन में इन जारी 4 अंकों के अलावा राशन कार्ड में उस आभार्थी के घर के सभी सदस्यों के लिए यूनिक आईडी भी बनाने के लिए राशन कार्ड के नंबर के साथ और नया ओर यूनिक 2 अंकों का एक सेट भी जोड़ा जाएगा।

एक देश एक राशन कार्ड की चयन प्रक्रिया

जैसे की आप सभी लोग यह अच्छी तरह से जानते है कि राशन कार्ड को सभी किसी भी राज्य सरकार द्वारा दो तरह से जारी किये जाते है जिसमे पहली है राज्य की योजना का एपीएल राशन कार्ड  और दूसरा है राज्य के निर्धन लोगो के लिए बीपीएल राशन कार्ड। लोगो की आय के ओर उनके स्त्रोतों के आधार पर एपीएल और बीपीएल  प्रकार राशन कार्ड उनको दिए जाते है। इसी प्रकार एक देश-एक राशन कार्ड की भी चयन प्रक्रिया इसी प्रकार से इसी आधार पर की जाएगी। एपीएल राशन कार्ड की इस केटेगरी में कौन से लोग आते है और बीपीएल केटेगरी में वो कौन से लाभार्थी आते है इसकी पूरी जानकारी आज हम अपने इस पोर्टल के माध्यम से बताने जा रहे है।

राशन कार्ड की एपीएल  केटेगरी – राशन कार्ड की इस केटेगरी में राज्य और देश के उन लोगो को रखा जाता है जो गरीब रेखा से ऊपर जीवन यापन कर रहे है या एक सम्पन्न जीवन जी रहे हैं। ओर उन लोगो को एपीएल राशन कार्ड इस प्रोसेस के अनुसार प्रदान किया जाता है। अगर आप आर्थिक रूप से सक्षम है ओर सम्पन्न परिवार से हो तो उन्हें एपीएल राशन कार्ड के लिए आवेदन राज्य के नियमो के अनुसार करना होगा।

राशनकार्ड की बीपीएल केटेगरी  – इस केटेगरी के अंतर्गत राज्य तथा देश के उन सभी लोगो को रखा जाता है जो आर्थिक स्तिथि से गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन कर रहे है या जो मजदूरी कर के अपना जीवन यापन कर रहे हैँ। देश मे उन लोगो को बीपीएल राशन कार्ड को सेवा को प्रदान किया जाता है। 

अगर आप  गरीबी रेखा से नीचे आते है तो उन्हें  बीपीएल राशन कार्ड के लिए राज्य के नियमो के अनुसार  अप्लाई करना होगा।

एक देश एक राशन कार्ड योजना में आवेदन कैसे करे?

अपने देश के किसी भी राशन कार्ड धारक/लाभार्थी को एक देश एक राशन कार्ड योजना के अंतर्गत जॉइन करने के लिए किसी भी तरह के फॉर्म को ऑनलाइन तथा ऑफलाइन आवेदन करने की आवश्यकता भी नहीं है। देश के सभी राज्य और केंद्र सरकार स्वयं अपने पास उपलब्ध आकड़ो के अनुसार देश मे लाभार्थियों के राशन कार्ड फ़ोन पर आधार कार्ड से सत्यापित करके खुद बे खुद लिंक करेंगी| इसके बाद एम इंटीग्रेटेड मैनेजमेंट पब्लिक डिस्टीब्यूशन सिस्टम(IMPDS) के अंतर्गत वे आकड़ो को उपलब्ध कराएगी | जिससे पात्र देश के सभी नागरिक देश के किसी भी कोने से अपने हिस्से का राशन/अनाज ले सकेंगे|