प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान 2020: ऑनलाइन आवेदन | एप्लीकेशन फॉर्म

Pradhanmantri Garib Kalyan Rojgar Yojana Apply | प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान ऑनलाइन आवेदन | Garib Kalyan Rojgar Form |  गरीब कल्याण रोजगार योजना रजिस्ट्रेशन | मोदी गरीब रोजगार योजना

भारत देश में रोजगार की तलाश में मजदूर एक राज्य से दुसरे राज्य में जाते हैं। लेकिन हाल ही में कोरोना महामारी की वजह से मजदूरों को वापस अपने राज्य लौटना पड़ा। जिसकी वजह से उनका रोजगार भी चला गया। इसी बेरोजगारी को देखते हुए भारत सरकार ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान शुरू किया। जिसकी घोषणा वित् मंत्री सीतारमण जी ने की। यह अभियान हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के द्वारा 20 जून को शुरू कर दिया था। जिसका मुख्य उद्देश्य प्रवासी मजदूरों की मदद करना और उनके लिए रोजगार के अवसार पैदा करना हैं। यह Garib Kalyan Rojgar Abhiyan 6 राज्यों के 116 जिलों में चलाया गया हैं। जो कुल 125 दिन तक चला हैं इच्छुक व्यक्ति इस अभियान के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। जिसके लिए सबसे पहले एप्लीकेशन फॉर्म भरना होगा। इससे जुडी और आधिक जानकारी हमने निचे विस्तारपूर्वक दे दी हैं।

Pradhanmantri Garib Kalyan Rojgar Yojana

Pradhanmantri Garib Kalyan Rojgar Yojana

इस योजना के माध्यम से प्रवासी और ग्रामीण मजदूरो को लाभ मिलेगा। इसी के साथ-साथ उन्हें आर्थिक मदद भी मिलेगी। जैसा की हमने ऊपर भी बताया हैं कि यह योजना को 6 राज्यों और 116 जिलो मे 125 दिन तक मजदूरो की सहयता के लिए चलाया जायेगा। हमारे देश की वित् मंत्री की घोषणा के हिसाब से इस योजना को 125 दिन के अंदर 116 जिलो मे लोगो तक पहुँचाया जाएगा। इन सभी योजनाओ को ‘गरीब कल्याण रोजगार अभियान’ के माद्यम से लोगो को बताया जायगा। इस योजना का लाभ लेने के लिए सभी मजदूरो को योजना के तहत अपना पंजीकरण कराना होगा। Pradhanmantri Garib Kalyan Rojgar Yojana के तहत केंद्र सरकार द्वारा 50 हज़ार करोड़ लोगो के कल्याण मे लगाया जाएगा।

मुख्य तथ्य गरीब रोजगार योजना 2020

अभियान का नामप्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान
इनके द्वारा घोषणा की गयीदेश की वित् मंत्री निर्मला सीतारमण जी के द्वारा
इनके द्वारा शुरू की जाएगीदेश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के द्वारा
लॉन्च की तारीक20 जून सुबह 11 बजे
लाभार्थीदेश के प्रवासी मजदूर
उद्देश्यरोजगार के अवसर प्रदान करना
योजना अवधि और समय125 दिन

उद्देश्य गरीब कल्याण रोजगार- Gareeb Kalyan Rojgar

देश में बढती कोरोना माहमारी के कारण देश मे लॉकडाउन किया गया। जिसकी वजह से देश के अधिकतर सभी मजदूर बेरोजगार हो गये। उनकी आर्थिक स्थति बहुत ज्यादा ख़राब हो गयी। जो मजदूर रोज़ाना कमाकर अपने परिवार का भरण-पोषण करते थे वो अब नही कर पा रहे है। उनकी इसी समस्या को देखते हुए केद्र सरकार ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान को शुरू किया। इस योजना के तहत सरकार प्रवासी मजदूरो को उनके ही राज्य मे रोजगार उपलब्ध करवाएगी। जिससे उनकी आर्थिक तंगी दूर होगी और वो अपने परिवार का भरण-पोषण भी कर सकेंगे।

New Update Pradhanmantri Garib Kalyan Rojgar Yojana

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के साथ इस योजना का शुभारंभ करने के लिए बहुत से मिनिस्टर शामिल हुए जिनमे कृषि विभाग के मिनिस्टर नरेंद्र सिंह तोमर , बिहार में मुख्यमंत्री मान्य नितीश कुमार जी, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ, एमपी के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, झारखण्ड के सीएम हेमंत सोरेन, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उड़ीसा के सीएम प्रताप जैन, इन सभी नेताओ की उपस्थति मे 20 जून को प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान का आरम्भ किया गया। इस योजना से सभी प्रवासी मजदूरो को बहुत लाभ मिला है। और मजदूरो की रोज़गार की समस्या दूर हुई है।

पीएम गरीब कल्याण रोजगार योजना

प्रेस कांफ्रेंस में देश के कृषि मंत्री ने कहा हैं कि भारत देश में कोरोना महामारी के चलते लॉकडाउन चल रहा है। जिसकी वजह से देश के काफी मजदूरों का रोजगार चला गया हैं। इन्ही हालातों को देखते हुए प्रधानमंत्री जी ने मजदूरों ,गरीबो किसानो आदि के लिए 70 हज़ार करोड़ रूपये का पैकेज शुरू करने का फैसला लिया हैं। Garib Kalyan Rojgar Abhiyan की मदद से मजदूर अपना हुनर और रूचि दिखाकर नया रोजगार ले सकते हैं।

गरीब रोजगार अभियान नयी घोषणा

अगर हमारे देश के मान्य प्रधानमंत्री जी की बात पर गौर किया जाए तो इस अभियान के लिए करीब 50 हज़ार करोड़ रूपये का खर्च केंद्र सरकार उठाएगी। यह अभियान कुल 125 दिन तक 116 राज्यों में चलाया जाएगा। जिसमे कुल 25 मुख्य काम चुने जायेंगे। इन्ही 25 काम की मदद से रोजगार के नए अवसर पैदा होने में मदद मिलेगी । बिहार के मुख्यमंत्री जी ने कहा हैं कि गरीब कल्याण रोजगार अभियान की वजह से अधिक से अधिक श्रमिकों, मजदूरों और जो प्रवासी बिहार के बाहर से आये हैं। उन्हें सभी को रोजगार मिलेगा।

गरीब कल्याण रोजगार योजना में राज्यों की सूची

क्रमांक संख्याराज्यों का नामजिलेआकांक्षात्मक जिले
1बिहार3212
2उत्तर प्रदेश315
3मध्य प्रदेश244
4राजस्थान222
5ओडिशा41
6झारखण्ड33
कुल जिले11627

मोदी गरीब रोजगार योजना 2020

इस गरीब कल्याण रोजगार अभियान मे बिहार के 38 मे 32 जिलो को चुना गया हैं। इस योजना का मुख्य मकसद ग्रामीण क्षेत्रो का विकास करना होगा। जिसके लिए मुख्य रूप से 25 विकास कार्य जैसे आंगनवाड़ी केंद्र , सामुदायिक केंद्र , कृषि ,सड़क , आवास ,बागवानी जल संरक्षण आदि शामिल किये गए हैं। इसी के साथ-साथ प्रधानमंत्री जी ने एक और घोषणा की हैं। जिसके तहत जिस गाँव में पंचायत भवन नहीं है वहाँ पर पंचायत भवन का निर्माण किया जायेगा। इस अभियान में आधुनिक गांव को भी जोड़ा जायेगा।इस अभियान योजना के अंतर्ग्रत बिहार ,राजस्थान ,मध्य प्रदेश ,उड़ीसा ,उत्तर प्रदेश झारखण्ड आदि जैसे राज्यों के 116 जिलों के मजदूरों ,श्रमिकों और कामगार महिलाओ को घर के पास ही रोजगार दिया जाएगा।

योजना में 25 कार्यो की सूची

क्रमांक संख्याकार्य / गतिविधि
1सामुदायिक स्वच्छता केंद्र (CSC) का निर्माण
2ग्राम पंचायत भवन का निर्माण
314 वें एफसी फंड के तहत काम करता है
4राष्ट्रीय राजमार्ग कार्यों का निर्माण
5जल संरक्षण और कटाई का काम करता है
6कुओं का निर्माण
7वृक्षारोपण का काम करता है
8बागवानी
9आंगनवाड़ी केंद्रों का निर्माण
10ग्रामीण आवास कार्यों का निर्माण
11ग्रामीण कनेक्टिविटी का काम करता है
12ठोस और तरल अपशिष्ट प्रबंधन कार्य करता है
13खेत तालाबों का निर्माण
14पशु शेड का निर्माण
15पोल्ट्री शेड का निर्माण
16बकरी शेड का निर्माण
17वर्मी-कम्पोस्ट संरचनाओं का निर्माण
18रेलवे
19रुर्बन
20पीएम कुसुम
21भारत नेट
22CAMPA का वृक्षारोपण
23पीएम उर्जा गंगा प्रोजेक्ट
24लाइवलीहुड के लिए केवीके प्रशिक्षण
25जिला खनिज फाउंडेशन ट्रस्ट (DMFT) काम करता है

मुख्य विशेषताएँ गरीब कल्याण रोजगार (Garib Kalyan Rojgar)

  • लॉकडाउन में जो प्रवासी मजदूर अपने घर लौट आये हैं उन्हें अपने घर पर ही रोजगार मिलेगा।
  • प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान का सबसे ज्यादा लाभ गाँव में रहने वाले गरीब मजदूरों को मिलेगा।
  • इस अभियान की वजह से सभी सरकारी तंत्र गरीब मजदूरों की मदद के लिए मिशन mode में आएंगे।
  • गरीब कल्याण रोजगार अभियान का पूरा बजट करीब 50 हजार करोड़ रुपये हैं जो केंद्र सरकार द्वारा रखा गया हैं।
  • PM Garib Kalyan Rojgar Abhiyan में बहुत से काम कराए जायेंगे जैसे- कम्युनिटी को सैनिटाइज करना, कोम्प्लेक्स और शौपिंग मॉल को सैनिटाइज करना, गाँव की ग्राम पंचायत में आने वाले काम, नैशनल हाइवे पर होने वाले काम, आंगनवाड़ी केंद्र में बहुत से ऐसे काम होते हैं जिनमे मजदूरों की जरूरत होती हैं

इन 12 मंत्रालयों/विभागों का संयुक्त अभियान

  • ग्रामीण विकास मंत्रालय।
  • पंचायती राज मंत्रालय।
  • सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय।
  • खान मंत्रालय।
  • पेयजल और स्वच्छता मंत्रालय।
  • पर्यावरण मंत्रालय।
  • रेलवे मंत्रालय।
  • पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय।
  • नई और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय।
  • सीमा सड़क विभाग।
  • दूरसंचार विभाग।
  • कृषि मंत्रालय।

गरीब  कल्याण रोजगार योजना वेब पोर्टल

इस योजना के लिए मजदूर ऑनलाइन अप्लाई कर सके। उसके लिए केंद्रीय ग्रामीण विकास और पंचायती राज्य मंत्री मान्य नरेंद्र सिंह तोमर जी ने विडियो कॉन्फ़्रेंसिंग में गरीब कल्याण रोजगार ऑनलाइन वेब पोर्टल को लॉन्च किया गया हैं। केंद्रीय ग्रामीण विकास और पंचायती राज मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर जी ने बताया हैं की इस अभियान के ज़रिए मजदूरों को 4 महीने तक रोजगार दिया जाएगा। रोजगार लेने के लिए मजदूर इस पोर्टल पर अपना आवेदन कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान में आवेदन कैसे करे?

जो मजदुर इस योजना के तहत रोजगार प्राप्त करने के लिए अपना आवेदन करना चाहते है। उन्हें थोडा इंतजार करना होगा क्यूँकि अभी इस योजना को शुरू होने मे थोडा समय लगेगा। योजना शुरू होने के बाद आवेदन शुरू हो जायेगा और हम हमारे आर्टिकल के द्वारा आपको सूचित कर देंगे कि आप कब और कैसे प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान के लिए आवेदन कर सकते है।