(Gramin Ujala) प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना 2022: फ्री एलईडी बल्ब पंजीकरण


Pradhanmantri Gramin Ujala Yojana Apply | प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना फ्री एलईडी बल्ब पंजीकरण | Gramin Ujala Free LED Blub Yojana


सरकार द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों का विकास किया जा रहा है। ग्रामीण क्षेत्रों के विकास के लिए सरकार तरह-तरह की योजनाएं लांच करती हैं। आज हम आपको ऐसी ही एक योजना से संबंधित जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं। जिसका नाम प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना है। इस लेख को पढ़कर आपको इस योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त होगी। जैसे कि प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना क्या है?, इसके लाभ, उद्देश्य, विशेषताएं, पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज, आवेदन प्रक्रिया आदि। तो दोस्तों यदि आप Pradhanmantri Gramin Ujala Yojana 2022 से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप से निवेदन है कि आप हमारे इस लेख को अंत तक पढ़ें।

PM Gramin Ujala Yojana 2022

प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना के अंतर्गत ग्रामीण इलाकों के परिवार को 10-10 रुपए में एलईडी बल्ब वितरित किए जाएंगे। इस योजना के अंतर्गत प्रत्येक परिवार को लगभग तीन से चार एलईडी बल्ब प्रदान किए जाएंगे। Pradhanmantri Gramin Ujala Yojana 2022 को पब्लिक सेक्टर की एनर्जी एफिशिएंसी सर्विसेज लिमिटेड द्वारा अगले महीने वाराणसी समेत देश के पांच शहरों के ग्रामीण इलाकों में आरंभ किया जाएगा। अप्रैल तक इस योजना को पूरे भारत में लागू कर दिया जाएगा।

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना लिस्ट


प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना

प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना के पूरे हुए 7 वर्ष

बिजली मंत्रालय द्वारा प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना को 5 जनवरी 2015 को आरंभ किया गया था। इस योजना को आरंभ करने की घोषणा हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा की गई थी। इस योजना के माध्यम से देश के नागरिकों को एलईडी बल्ब प्रदान किए जाते हैं। प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना को 5 जनवरी 2022 को 7 वर्ष पूरे हो गए हैं। यह योजना दुनिया की सबसे बड़ी जीरो सब्सिडी घरेलू प्रकाश कार्यक्रम है। जिसमें देशभर में 36.78 करोड़ से अधिक एलईडी वितरित की गई है। 5 जनवरी 2022 तक 47778 मिलियन किलोवाट घंटे प्रतिवर्ष ऊर्जा की बचत की गई है। इसके अलावा CO2 उत्सर्जन में 36 करोड़ टन की कमी के साथ 9747 मेगा वॉट की चरम मांग से बचा गया है। इस योजना के माध्यम से 72.09 लाख एलईडी ट्यूब लाइट एवं 23.41 लाख ऊर्जा कुशल पंखे वितरित किए गए हैं।

  • इस योजना के कारणवश 19156 करोड़ रुपए की अनुमानित वार्षिक बचत हुई है। एलईडी बल्ब की खरीद मूल्य में भी इस योजना के कारण वर्ष गिरावट दर्ज की गई है। वितरित किए जा रहे एलईडी बल्ब को तकनीकी विनिर्देश को 7 वोट से बढ़ाकर 9 वोट एवं 85 लुमेन से बढ़ाकर 100 लूमेन कर दिया गया है।
  • इस योजना का लाभ अब तक 9 करोड़ से अधिक उपभोक्ताओं द्वारा प्राप्त किया जा चुका है। इस कार्यक्रम के बारे में जानकारी आधिकारिक वेबसाइट पर प्रसारित की जाती है। इसके अलावा एलईडी बल्बों की खरीदी खुली ई बोली प्रक्रिया के माध्यम से की जाती है।

पीएम ग्रामीण उजाला योजना लॉन्चिंग

इस को लॉन्च करने का मुख्य उद्देश्य एनर्जी एफिशिएंसी को गांव तक ले जाना है। PM Gramin Ujala Yojana 2022 के माध्यम से बिजली के बिल में कमी आएगी। जिससे कि लोगों की बचत बढ़ेगी। इस योजना के अंतर्गत लगभग 15 से 20 करोड़ लाभार्थियों को 60 करोड़ एलईडी बल्ब बांटे जाएंगे। प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना के माध्यम से ना सिर्फ लोगों के पैसों में बचत होगी बल्कि एक बेहतर जीवन प्राप्त होगा। इस योजना के माध्यम से एलईडी बल्ब की मांग भी बढ़ेगी जिससे निवेश में बढ़ोतरी होगी।

Babasaheb Ambedkar Jeevan Prakash Yojana

Key Highlights Of Pradhanmantri Gramin Ujala Yojana 2022

योजना का नामप्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना
किस ने लांच कीएनर्जी एफिशिएंसी सर्विसेज लिमिटेड
लाभार्थीग्रामीण इलाकों में रहने वाले नागरिक
उद्देश्यएनर्जी एफिशिएंसी को ग्रामीण इलाकों तक पहुंचाना
साल2022
एलईडी बल्ब का मूल्य₹10
लाभार्थियों की संख्या15 से 20 करोड़
एलईडी बल्ब की संख्या60 करोड़
बिजली की बचत9324 करोड़ यूनिट
पैसों की बचत50 हजार करोड़ रुपए
कार्बन उत्सर्जन में कमी7.65 करोड़

प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना के अंतर्गत बचत

PM Gramin Ujala Yojana 2022 को चरणबद्ध तरीके से लागू किया जाएगा जिसमें उत्तर प्रदेश का वाराणसी, बिहार का आरा, महाराष्ट्र का नागपुर, गुजरात का वडनगर तथा आंध्रप्रदेश का विजयवाड़ा शामिल है। Pradhanmantri Gramin Ujala Yojana 2022 से लगभग 9324 करोड़ यूनिट सालाना बिजली की बचत होगी। जबकि 7.65 करोड़ टन सालाना कार्बन उत्सर्जन में कमी आएगी। इस योजना के माध्यम से 50000 करोड़ रुपए सालाना की बचत होगी। इस योजना के लिए केंद्र या फिर राज्य सरकार से कोई भी सब्सिडी नहीं ली जाएगी। प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना में जो भी खर्च आएगा वह ईईएसएल करेगी। इस योजना की लागत की वसूली कार्बन ट्रेडिंग के माध्यम से की जाएगी।

प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना का उद्देश्य

ग्रामीण उजाला योजना का मुख्य उद्देश्य ग्रामीण इलाकों में एनर्जी एफिशिएंसी को पहुंचाना है। इस योजना के माध्यम से ₹10 मैं एक LED प्रदान किया जाएगा। जिससे कि बिजली की खपत में कमी होगी और पैसों की बचत होगी। Gramin Ujala Yojana 2022 के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों का विकास होगा और उनके जीवन स्तर में सुधार आएगा। इस योजना के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों के लोग एनर्जी एफिशिएंसी के बारे में जागरूकता होंगे जिससे कि पूरा देश का विकास होगा।

प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना का लक्ष्य

  • 3 वर्षों में एलईडी लाइट बदलने का लक्ष्य- 770 मिलियन
  • अपेक्षित वार्षिक ऊर्जा बचत- 105 बिलियन KWH
  • पीक लोड में अपेक्षित कमी- 20000 मेगावाट
  • वार्षिक अनुमानित ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन में कमी- 79 मिलियन टन CO2

PM Gramin Ujala Yojana 2022 की विशेषताएं

  • प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना के अंतर्गत ग्रामीण इलाके के परिवार को ₹10 में एलईडी बल्ब प्रदान किए जाएंगे।
  • इस योजना के अंतर्गत प्रत्येक परिवार को तीन से चार एलईडी बल्ब प्रदान किए जाएंगे।
  • PM Gramin Ujala Yojana 2022 को पब्लिक सेक्टर की एनर्जी एफिशिएंसी सर्विसेज लिमिटेड द्वारा आरंभ किया जाएगा।
  • इस योजना को चरणबद्ध तरीके से वाराणसी, आरा, नागपुर, वडनगर तथा विजयवाड़ा में लागू किया जाएगा।
  • इस योजना को अप्रैल तक पूरे भारत में लागू कर दिया जाएगा।
  • ग्रामीण उजाला योजना के माध्यम से 15 से 20 करोड़ लाभार्थियों को 60 करोड़ एलईडी बल्ब वितरित किए जाएंगे।
  • Pradhanmantri Gramin Ujala Yojana 2022 के माध्यम से लगभग 9325 करोड़ यूनिट सालाना बिजली की बचत होगी।
  • इस योजना के माध्यम से 7.65 करोड़ टन सालाना कार्बन उत्सर्जन में कमी आएगी।
  • इस योजना के माध्यम से प्रतिवर्ष 50000 करोड रुपए की बचत होगी।
  • प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना को लागू करने के लिए केंद्र तथा राज्य सरकार से कोई भी सब्सिडी नहीं ली जाएगी। इस योजना में जो भी खर्चा आएगा वह ईईएसएल करेगी।
  • इस योजना के अंतर्गत लागत की वसूली कार्बन ट्रेडिंग के माध्यम से की जाएगी।
  • प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना के माध्यम से ग्रामीण इलाकों के लोग एनर्जी एफिशिएंसी के बारे में जागरूक होंगे।
  • इस योजना के माध्यम से बिजली के बिल में कमी आएगी।
  • इस योजना के माध्यम से लोगों के पैसों की बचत होगी।

UP Bijli Bill Mafi Yojana

उजाला कार्यक्रम का पिछला प्रक्षेपण

एनटीपीसी, पीएफसी, आरईसी और पावर ग्रिड संयुक्त उद्यम कंपनी उजाला कार्यक्रम के अंतर्गत ₹70 प्रति बल्ब की दर से 36.50 करोड़ से ज्यादा एलईडी बल्ब वितरित कर चुकी है। जिसमें से केवल 20% बल्ब ही ग्रामीण क्षेत्रों में पहुंचे हैं।  उजाला कार्यक्रम के अंतर्गत ट्यूब लाइट, एनर्जी एफिशिएंसी पंखे, स्ट्रीट लाइट, स्मार्ट मीटर, इलेक्ट्रॉनिक व्हीकल, EV चार्जिंग आदि भी शामिल है।

खराब एलईडी बल्ब को बदलना

  • एलईडी बल्ब की लाइफ 4 से 5 वर्ष तक होती है।
  • यदि 1 साल की अवधि में एलईडी बल्ब खराब हो जाता है तो इस स्थिति में ईईएसएल बल्बों की मुफ्त प्रतिस्थापना करता है।

महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • बिजली के बिल की फोटोकॉपी
  • फोटो आईडी प्रूफ
  • निवास प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • राशन कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • आय प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड

प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना कंप्लेंट दर्ज करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
 प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको मैंन्यू बार के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको डैशबोर्ड के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
 प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना
  • इसके पश्चात आपको उजाला के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
कंप्लेंट
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर रजिस्टर योर कंप्लेंट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
PM Ujala Yojana
  • इसके पश्चात आपके सामने कंज्यूमर कंप्लेंट रजिस्ट्रेशन पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको कॉलर नंबर, लैंग्वेज, स्टेट, स्कीम, डिस्ट्रिक्ट आदि दर्ज करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको सेव के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप कंप्लेंट दर्ज कर सकेंगे।

कंप्लेंट की स्थिति चेक करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इसके पश्चात आपको मैंन्यू बार के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको डैशबोर्ड के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको उजाला के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको रजिस्टर योर कंप्लेंट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
कंप्लेंट की स्थिति चेक
  • इसके पश्चात आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको कॉलर नंबर या कंप्लेंट आईडी दर्ज करनी होगी।
  • अब आपको सर्च के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • कंप्लेंट की स्थिति आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगी।

डैशबोर्ड देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इसके पश्चात आपको मैंन्यू बार के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको डैशबोर्ड के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको उजाला के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
 प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना
  • डैशबोर्ड से संबंधित जानकारी आपके कंप्यूटर स्क्रीन पर होगी।

संपर्क विवरण देखने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको मैन्युबार के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको कांटेक्ट अस के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
संपर्क विवरण
  • इसके पश्चात आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आप संपर्क विवरण देख सकेंगे।

Conclusion

हमने अपने इस लेख के माध्यम से आपको प्रधानमंत्री ग्रामीण उजाला योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान कर दी है। यदि आप अभी भी किसी प्रकार की समस्या का सामना कर रहे हैं तो आप हमसे कमेंट सेक्शन में पूछ सकते हैं। आप का कमेंट हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण है। हम आपकी पूरी सहायता करने की कोशिश करेंगे। धन्यवाद।


See also  PMAY Gramin List UP 2022: प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण नई लिस्ट उत्तर प्रदेश